ज्यादा खर्च के कारण जियो टैरिफ बढ़ा सकती है



गैजेट डेस्क. रिलायंस जियो इन्फोकॉम इस वित्त वर्ष में टैरिफ में इजाफा कर सकती है। कंपनी को टावर व फाइबर सहित कई प्रोजेक्ट पर सालाना 9 हजार करोड़ रु. खर्च करने हैं। इसके लिए यह सर्विसेज के दाम बढ़ा सकती है। इन्वेस्टमेंट बैंक जेपी मॉर्गन की रिपोर्ट के अनुसार जापान की सॉफ्टबैंक जियो में 14-21 हजार करोड़ इन्वेस्ट कर सकती है।

जियो द्वारा कीमत बढ़ाने की संभावना पिछले छह से नौ महीनों की तुलना में कहीं ज्यादा है। वोडाफोन-आइडिया और भारती एयरटेल पूंजी जुटाने की योजना बना रही हैं। इसलिए जियो को भी रणनीति बदलनी पड़ेगी। वोडाफोन-आइडिया व एयरटेल राइट इश्यू से 25-25 हजार करोड़ जुटाने में लगी हैं। वे इस रकम का इस्तेमाल जियो से मुकाबला करने में करेंगी।

फरवरी में जियो आगे बढ़ी, एयरटेल स्थिर, वोडाफोन को नुकसान

  • फरवरी में जियो ने 80 लाख सब्स्क्राइबर जोड़े। एयरटेल की संख्या में ज्यादा बदलाव नहीं आया। वहीं, वोडाफोन ने 60 लाख सब्स्क्राइबर खोए।
  • जियो का सब्स्क्राइबर मार्केट शेयर 24% है। एयरटेल का शेयर 32%, वोडाफोन-आइडिया का 37% है।
  • देश में मोबाइल सब्स्क्राइबर 118.4 करोड़ हैं। कई लोगों के पास एक से अधिक नंबर होते हैं।
  • 3जी व 4जी मिलाकर देश में 53.2 करोड़ सब्स्क्राइबर हैं। फरवरी में मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के इस्तेमाल में 10% कमी आई।

(स्रोत: सीएलएसए)

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


reliance jio to increase traffic due to heavy expenses

from Dainik Bhaskar
http://bit.ly/2Xy43FU

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar